Ticker

6/recent/ticker-posts

IAS का फुल फॉर्म - 2021 में IAS की तैयारी कैसे करें

क्या आप ias ka full form जानते हैं? आज के समय में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसने आईएएस के बारे में नहीं सुना होगा, कुछ लोग ऐसे भी होंगे जिन्होंने इसके बारे में सुना तो होगा परंतु इसके बारे में पता नहीं होगा।

क्या आप आईएएस का फुल फॉर्म या फिर आईएएस से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न के उत्तर को खोजते हुए हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं। 

यदि आप आईएएस से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्नों के उत्तर के लिए हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं तो आप बिल्कुल सही जगह आ गए हैं।

आज इस आर्टिकल में हम आईएएस से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को देने वाले हैं। 

मैं वादा करता हूं हमारा यह आर्टिकल पढ़कर आपके मन में आईएएस से संबंधित जितने भी प्रश्न होंगे आपको उन सारे प्रश्नों के उत्तर मिल जाएंगे, बस आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें।


ias ka full form


तो फिर आइए बिना किसी देरी के शुरू करते हैं और इसके बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं-

IAS Ka Full Form :- 


IAS का फुल फॉर्म "Indian Administrative Service" होता हैं तथा इसका हिंदी मतलब "भारतीय प्रशासनिक सेवा" होता हैं। 

आईएएस को सबसे प्रतिष्ठित सेवाओं में से एक माना जाता है तथा इसको भारत की प्रमुख सिविल सेवा भी माना जाता है। 

यूपीएससी द्वारा कराए जाने वाले सिविल सर्विस परीक्षा में प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा तथा साक्षात्कार पास कर लेने के बाद आईएएस अधिकारी चुने जाते हैं।

आईएएस अधिकारी संसद में बनने वाले नए कानूनों को अपने क्षेत्रों में लागू करवाते हैं तथा इसके अलावा नई नीतियों, नए कानूनों को बनाने में भी मदद करते हैं। 


IAS क्या हैं :-


आईएएस हमारे देश की सबसे बड़ी सरकारी नौकरी है। 

आईएएस का फुल फॉर्म "Indian Administrative Service" होता है, जिसको हिंदी में भारतीय प्रशासनिक सेवा भी कहते हैं। 

यूपीएससी में जो कैंडिडेट टॉप करता है उसे आईएएस अधिकारी बनाया जाता है।

आईएएस अधिकारी संसद में बनने वाले नए कानूनों को अपने क्षेत्रों में लागू करवाते हैं तथा नई नीतियों, नए कानूनों को बनाने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

आईएएस अधिकारी कैबिनेट सेक्रेटरी तथा अंडर सेक्रेटरी भी बन सकते हैं।


IAS कैसे बनें :- 


आईएएस अधिकारी बनने के लिए सबसे पहले आपको आपको यूपीएससी की परीक्षा में टॉप करना पड़ता है जब आप यूपीएससी की परीक्षा टॉप कर लेते हैं तब आप आसानी से आईएएस अधिकारी बन सकते हैं।

आईएएस अधिकारी बनने के लिए आपको यूपीएससी की परीक्षा देनी पड़ती है यूपीएससी की परीक्षा देने के लिए क्वालिफिकेशन क्या होनी चाहिए आईये इसके बारे में जानते हैं-

Qualification :- 


यूपीएससी का एग्जाम देने के लिए आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होना अनिवार्य होता है, आप ग्रेजुएशन की डिग्री भारत में स्थित किसी भी यूनिवर्सिटी से ही क्यों ना ली हो बस आपके आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए। 

आपने किसी भी स्ट्रीम से ग्रेजुएशन की डिग्री ली हो बस आपके पास ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए आप यूपीएससी का एग्जाम देने के योग्य हो जाते हैं।


उम्र सीमा (Age Criteria) :- 


यूपीएससी का एग्जाम देने के लिए सभी वर्ग के लोगों के लिए न्यूनतम उम्र सीमा 21 वर्ष होती है। 

OBC CATEGORY  :- 


इस वर्ग के लोगों के लिए उम्र सीमा 21 से 35 वर्ष के मध्य रखी गई है। 

GENERAL CATEGORY :- 


इस वर्ग के लोगों के लिए उम्र सीमा 21 से 32 वर्ष के मध्य रखी गई है। 

SC/ST CATEGORY :- 


इस वर्ग के लोगों के लिए उम्र सीमा 21 से 37 वर्ष के मध्य रखी गई है। 

JAMMU & KASHMIR CANDIDATE :- 


यहां के कैंडिडेट के लिए उम्र सीमा 21 से 37 वर्ष के मध्य रखी गई है। 

HANDICAP PERSON :- 


इनके लिए उम्र सीमा 21 से 42 वर्ष के मध्य रखी गई है। 


किस वर्ग के लोग कितनी बार आईएएस की परीक्षा दे सकते हैं :- 


सभी वर्ग के लोगों के लिए अलग-अलग रखा गया है आइए उसके बारे में जानते हैं- 

GENERAL CATEGORY :- 


इस वर्ग के लोग 32 वर्ष की उम्र तक 6 बार आईएएस की परीक्षा दे सकते हैं।

OBC CATEGORY :- 


इस वर्ग के लोग 35 वर्ष की उम्र तक 9 बार आईएएस की परीक्षा दे सकते हैं।

SC/ST CATEGORY :- 


इस वर्ग के लोग 37 वर्ष की उम्र तक अनलिमिटेड बार अर्थात जितनी बार मन करें उतनी बार परीक्षा दे सकते हैं इस वर्ग के लोगों के लिए कोई भी लिमिट नहीं रखी गई है। 



आईएएस अधिकारी बनने के लिए Exam Pattern & Stage :- 


यूपीएससी का एग्जाम पास करने के लिए 3 स्टेज पार करने पड़ते हैं।

यह जरूरी नहीं है कि यूपीएससी का एग्जाम पास करने के बाद आप आईएएस ही बन जाएंगे अगर आपकी रैंक अच्छी है तो आप आईएएस बन सकते हैं अगर आप की रैंक थोड़ा कम है तो आप आईपीएस जैसे अधिकारी भी बन सकते हैं। 

जहां तक मुझे लगता है यदि आप जनरल कैटेगरी के हैं तो आपको आईएएस अधिकारी बनने के लिए 100 या 100 से कम की रैंक लानी पड़ेगी तभी आप आईएएस अधिकारी बन सकते हैं। 

Stage :- 


जैसा कि मैंने आपको ऊपर बताया कि यूपीएससी का एग्जाम पास करने के लिए तीन स्टेज होती है, आइए अब उन 3 स्टेज के बारे में जानते हैं। 

  1.  प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)
  2.  मुख्य परीक्षा (Main Exam)
  3.  साक्षात्कार (Interview).

जब आप इन तीनों स्टेज को पास कर लेते हैं तो उसके बाद आपकी रैंक के हिसाब से आपको पोस्ट दे जाती है, यदि आपकी रैंक अच्छी रहती है तो आपको आईएएस अधिकारी बना दिया जाता है। 


IAS अधिकारी की सैलरी :-


एक आईएएस अधिकारी का मासिक वेतन (सैलरी) लगभग ₹60000 होता है तथा इसके अलावा एक आईएएस अधिकारी को बहुत प्रकार की सुविधाएं भी दी जाती हैं। 

आईएएस अधिकारी को दी जाने वाली सुविधाएं :- 

एक आईएएस अधिकारी को दी जाने वाली सुविधाएं कुछ इस प्रकार से है-

  • आईएएस अधिकारी को रहने के लिए एक बंगला दिया जाता है। 
  • आईएएस अधिकारी को आने जाने के लिए एक गाड़ी दी जाती है। 
  • आईएएस अधिकारी की सुरक्षा के लिए इनको सिक्योरिटी गार्ड की सुविधा भी दी जाती है।
  •  आईएएस अधिकारी को फ्री इलेक्ट्रिकसिटी टेलीफोन बिल की सुविधा दी जाती है। 
  • एक आईएएस अधिकारी को नौकर तथा कुक की भी सुविधा दी जाती है।


आज आपने क्या सीखा :- 


आज इस आर्टिकल में हमने आईएएस से संबंधित लगभग सभी प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया, अगर आपने हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा तो अब तक आपको आईएस से संबंधित बहुत सी जानकारी प्राप्त हुई होंगी। 

दोस्तों हमारा यह आर्टिकल ias ka full form आपको कैसा लगा हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं यदि हमारे इस आर्टिकल से संबंधित आपके मन में कोई प्रश्न है तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

दोस्तों यदि आप मुझसे कुछ पूछना चाहते हैं या आप हमसे बात करना चाहते हैं तो वह भी हमें नीचे कमेंट करके बताएं, मुझे आपके फीडबैक का इंतजार रहेगा। 

अगर हमारा यह आर्टिकल ias ka full form आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ तथा सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी शेयर करें (धन्यवाद)

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां