Ticker

6/recent/ticker-posts

RNA Full Form in Hindi | RNA क्या हैं?

क्या आप RNA Ka Full Form जानते हैं? शायद आपको इसके बारे में पहले से ही जानकारी हो किंतु बहुत से लोग ऐसे भी होंगे जिनको आरएनए के बारे में नहीं पता होगा।

क्या आप आरएनए का फुल फॉर्म या फिर आरएनए से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न के उत्तर के लिए हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं। 

यदि आप RNA से संबंधित किसी भी प्रकार के प्रश्न के उत्तर के लिए हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं तो आप बिल्कुल सही जगह आ गए हैं। आज इस आर्टिकल में हम RNA से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को देने वाले हैं बस आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। 

मैं वादा करता हूं हमारे इस आर्टिकल को पढ़कर RNA से संबंधित आपके मन में जितने भी प्रश्न होंगे आपको उन सारे प्रश्नों के उत्तर मिल जाएंगे।

rna ka full form

RNA Ka Full Form :-

RNA का फुल फॉर्म "Ribo Nucleic Acid" होता हैं, जिसे हम हिंदी भाषा में 'राइबो न्यूक्लिक अम्ल' भी कहते हैं।

  • R - Ribo
  • N - Nucleic
  • A - Acid


RNA Full Form in Hindi :-

आरएनए का हिंदी भाषा में फुल फॉर्म "राइबो न्यूक्लिक अम्ल" होता है जोकि Ribo Nucleic Acid का हिंदी भाषा में रूपांतरण ही होता है।

  • आरएनए (RNA) - राइबो न्यूक्लिक अम्ल


RNA की खोज :-

RNA की खोज सेवेरो, ओकोवा, रॉबर्ट हॉली तथा कार्ल वासे के द्वारा की गयी थी। 


आरएनए क्या होता हैं (What is RNA in Hindi) :-

RNA पहला अनुवांशिक पदार्थ था, क्योंकि ऐसा माना जाता है कि आरएनए का विकास डीएनए से पहले हुआ था। डीएनए का निर्माण आरएनए के रसायनिक रूपांतरण से हुआ था।कुछ विषाणुओं तथा पौधों में पाए जाने वाले विषाणुओं में आरएनए अनुवांशिक पदार्थ के रूप में कार्य करता हैं।

आरएनए का संश्लेषण केंद्रक में होता है, अधिकांश आरएनए कोशिका द्रव्य में स्वतंत्र पड़ा होता है।कोशिका में आरएनए की मात्रा स्थाई नहीं होती है क्योंकि आरएनए अणुओं की हजारों की प्रतिलिपियाँ प्रत्येक समय बनती रहती है। 


विषाणु में  :-

कुछ विषाणुओं में आरएनए अनुवांशिक पदार्थ के रूप में कार्य करता है जैसे- H.I.V, Influenza, T.M.V, Poliomyelitis etc.


पौधों में पाए जाने वाले विषाणुओं में :-

कुछ पौधों में पाए जाने वाले विषाणुओं में भी आरएनए ही अनुवांशिक पदार्थ के रूप में कार्य करता हैं। इसके अलावा बैक्टीरियोफेज वायरस में भी आरएनए अनुवांशिक पदार्थ पदार्थ के रूप में कार्य करता है।



आरएनए के प्रकार (Types of RNA in Hindi) :-

RNA 3 प्रकार के होते हैं, आइये इसके बारे में जानते हैं- 

  1. संदेशवाहक या दूत आरएनए (Messenger RNA: mRNA)
  2. अभिगमन या ट्रांसफर आरएनए (Transfer RNA: tRNA)
  3. राइबोसोमल आरएनए ( Ribosomal RNA: rRNA)

1. संदेशवाहक आरएनए (Messenger RNA-mRNA) :-

इसे संदेशवाहक आरएनए या दूत आरएनए भी कहते हैं, mRNA केंद्रक में उपस्थित क्रियात्मक जीन के डीएनए के अनुलेखन से बनता है।पॉलीपेप्टइड श्रृंखला के संश्लेषण में एमिनो अम्लों के निश्चित क्रम को निर्धारित करने की सूचना mRNA में निहित रहती हैं।

अनुलेखित संदेश की प्रतिलिपि को लेकर यह केंद्र के बाहर साइटोप्लाज्म में पहुंचता है और राइबोसोम से जुड़कर पॉलीपेप्टइड श्रृंखला के संश्लेषण में एमिनो अम्लों के क्रम को निर्धारित करता है। 


2. अभिगमन आरएनए (Transfer RNA: tRNA) :-

इसे ट्रांसफर आरएनए या अभिगमन आरएनए भी कहते हैं, tRNA अणु कोशिका द्रव्य में स्थित एमिनो अम्लों के अणुओं को राइबोसोम तक ले जानें का काम करते हैं और राइबोसोम पर लगे mRNA पर यथास्थान जुड़कर एमिनो अम्ल अणुओं को पॉलीपेप्टाइड श्रृंखला में फिट कर देते हैं।

यह काम पूरा हो जाने के बाद tRNA कोशिका द्रव्य में वापस लौट जाते हैं और दोबारा अपना कार्य दोहराते हैं।


3. राइबोसोमल आरएनए (Ribosomal RNA: rRNA) :-

राइबोसोमल आरएनए राइबोसोम में होता है। यह प्रोटीन अणुओं के साथ जुड़ जाता है और इसमें जुड़कर यह राइबोसोम के सबयूनिट को बनाता है। 

RNA संरचनात्मक अणु होते हैं जबकि mRNA तथा tRNA सक्रियात्मक अणु होते हैं, इसी वजह से कोशिका में इनकी संख्या सबसे अधिक पाई जाती है।

कोशिका के कुल RNA का 80% भाग tRNAहोता है, प्रत्येक राइबोसोम का लगभग 65% भाग rRNA का तथा शेष जो होता हैं वो 35% भाग प्रोटीन का बना होता हैं।



DNA तथा RNA में अंतर :-

डीएनए तथा आरएनए में बहुत से अंतर होते हैं जिनमें से कुछ इस प्रकार से है- 

  • DNA का पूरा नाम 'Deoxyribo Nucleic Acid' होता हैं तथा RNA का पूरा नाम 'Ribo Nucleic Acid' होता हैं। 
  • डीएनए में डीऑक्सी राइबो शर्करा पाई जाती है तथा आरएनए में राइबोस शर्करा पाई जाती है। 
  • डीएनए लंबे समय तक क्रियाशील होते हैं जबकि आरएनए, डीएनए के मुकाबले में कम क्रियाशील होते हैं। 
  • डीएनए में हाइड्रोजन बंध पाया जाता है तथा आरएनए में हाइड्रोजन बंध नहीं पाया जाता है। 
  • डीएनए केंद्रक में उपस्थित गुणसूत्रों में पाया जाता है इसके अलावा यह हरित लवक तथा सूत्र कणिका में भी पाया जाता है तथा आरएनए केंद्रक तथा केंद्र के द्रव्य में पाया जाता है। 
  • डीएनए में थाइसीन पाया जाता है तथा आरएनए में यूरेसिल पाया जाता है। 
  • डीएनए का कोई प्रकार नहीं होता तथा आरएनए 3 प्रकार का होता है- mRNA, tRNA, rRNA etc.


Frequently Asked Questions (FAQ's) :-

Qus 1: RNA का पूरा नाम क्या है?

Ans: RNA का पूरा नाम "Ribo Nucleic Acid" होता हैं तथा हिंदी भाषा में इसे हम 'राइबो न्यूक्लिक अम्ल' के नाम से जानते हैं।


Qus 2: RNA कहाँ पाया जाता है?

Ans: RNA की संरचना DNA की तरह ही होती हैं, RNA कोशिका के अंदर केंद्रक तथा साइटोंप्लाज्म में पाया जाता है।


Qus 3: RNA का मुख्य कार्य क्या है?

Ans: आरएनए का महत्त्वपूर्ण कार्य में जीन को सुचारू बनाना और उनकी प्रतियां तैयार करना होता है।



आज आपने क्या सीखा :-

आज इस आर्टिकल में हमने आरएनए से संबंधित कुछ नई प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया, इस आर्टिकल में हमने आरएनए का फुल फॉर्म, आरएनए क्या है, आरएनए के प्रकार तथा इसके अलावा आरएनए से संबंधित और भी बहुत से प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया। 

अगर आपने हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा तो अब तक आपको आरएनए से संबंधित बहुत सी प्रकार की नई जानकारियां अवश्य प्राप्त हुई होगी। 

मैं उम्मीद करता हूं हमारे इस आर्टिकल से आपको आपके उस प्रश्न का उत्तर भी मिल गया होगा जिस प्रश्न के उत्तर के लिए आप हमारे इस ब्लॉग पर आए थे। 

मैं आशा करता हूं दोस्तों हमारा यह आर्टिकल आपको जरूर अच्छा लगा होगा तथा हमारे इस आर्टिकल को पढ़कर आपको बहुत कुछ जानकारी प्राप्त हुई होंगी। 

दोस्तों हमारा यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं तथा यदि हमारे इस आर्टिकल से संबंधित आपके मन में कोई प्रश्न है तो वह भी हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

यदि आप हमसे कुछ पूछना चाहते हैं या फिर आप हमसे संपर्क करना चाहते हैं तो वह भी हमें नीचे कमेंट करके बताएं, मुझे आपके फ़ीडबैक का इंतजार रहेगा। 

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल RNA Ka Full Form अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ तथा सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी शेयर करें (धन्यवाद)

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ