क्या आप sms ka full form जानते हैं? ऐसे बहुत से लोग होंगे जिनको इसके बारे में पहले से ही पता होगा परंतु बहुत से लोग ऐसे भी होंगे जिनको इसके बारे में नहीं पता होगा। 

आज के समय में लगभग सभी के पास मोबाइल फोन होते हैं और सभी लोग अपने यार-दोस्त, फैमिली मेंबर या रिश्तेदार को sms जरूर करते हैं।
परंतु इसका उपयोग करने के बावजूद भी बहुत से लोगों को इसके बारे में नहीं पता होता है।

आज इस आर्टिकल में हम sms से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को देने वाले हैं।

अगर आपको sms से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी को प्राप्त करना है तो उसके लिए आप हमारा यह आर्टिकल पूरा पढ़ें। 

मैं वादा करता हूं हमारा यह आर्टिकल पढ़कर आपके मन में sms से संबंधित जितने भी प्रश्न होंगे उन सारे प्रश्नों के उत्तर आपको मिल जाएंगे।

sms ka full form

तो चलिए फिर शुरू करते हैं और इसके बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं-

SMS Ka Full Form :- 


SMS का फुल फॉर्म "Short Message Service" होता हैं जिसे हिंदी में "लघु संदेश सेवा" कहते हैं।

SMS Ki Full Form :- 


sms की फुल फॉर्म short message service होता हैं।

SMS Full Form in Hindi :- 


जैसा की मैंने ऊपर आपको बताया की sms का फुल फॉर्म short message service होता हैं, इसी Short Message Service का हिंदी मतलब लघु संदेश सेवा होता है जिसे हम sms की हिंदी फुल फॉर्म बोलते हैं। 

sms शब्द की फुल फॉर्म का हिंदी मतलब ही इसका हिंदी फुल फॉर्म होता है।


SMS क्या हैं :- 


sms ka full form


आज के समय में जो भी व्यक्ति मोबाइल फोन चलाता है वो सभी व्यक्ति कहीं ना कहीं sms जरूर करते हैं। 

SMS एक मैसेजिंग सेवा होती है जिसकी सहायता से दो या दो से अधिक व्यक्ति आपस में टेक्स्ट मैसेज के रूप में एक-दूसरे से बातचीत कर सकते हैं।

आज के समय में सभी को इसके बारे में पता होता है जो व्यक्ति मोबाइल फोन चलाते हैं वह अपने यार-दोस्त, फैमली-मेंबर, रिश्तेदार या किसी और व्यक्ति से बात करने के लिए उनको sms जरूर करते हैं।

SMS दो व्यक्तियों के मध्य कम्युनिकेशन का एक साधन होता है, इसकी सहायता से दो या दो से अधिक व्यक्ति एक दूसरे से कम्युनिकेट करके आसानी से बातचीत कर सकते हैं।

हम एक साधारण मोबाइल फोन, टेलीफोन तथा कंप्यूटर के द्वारा किसी भी व्यक्ति को एसएमएस कर सकते हैं। 

160 Alpha-Numeric-Character इसकी लिमिट होती है अर्थात एक बार में हम 160 अल्फान्यूमैरिक कैरक्टर्स का sms किसी को सेंड कर सकते हैं या फिर किसी दूसरे व्यक्ति से प्राप्त कर सकते हैं। 


SMS का अविष्कार :- 


SMS सुविधा का आविष्कार सन 1984 ईस्वी में Friedhelm Hildebrand तथा Bernard Ghillebaert के द्वारा किया गया था। 

सबसे पहले एसएमएस (sms) का प्रयोग नोकिया कंपनी ने अपने फोन में किया था। उसके बाद धीरे-धीरे सभी मोबाइल कंपनी ने अपने फोन में sms की सुविधा देने लग गई।


SMS किस प्रकार काम करता हैं :- 


Sms को भेजने और प्राप्त करने के लिए सबसे मुख्य चीज नेटवर्क होती है, मतलब की इसका आधार नेटवर्क होता है। 

यदि आप किसी व्यक्ति को sms करना चाहते हैं तो आपके डिवाइस से sms तभी सेंड होगा जब आपके डिवाइस में नेटवर्क होगा अगर आपके मोबाइल में नेटवर्क नहीं है तो आप इसमें नहीं सेंड कर पाएंगे। 

यदि प्राप्तकर्ता (रिसीवर) के डिवाइस में नेटवर्क नहीं होगा तो उसे तब तक आपका sms नहीं मिलेगा जब तक उसके डिवाइस में नेटवर्क नहीं आ जाता है।

यदि भेजने वाले के पास से sms सेंड हो जाता है तथा प्राप्त करने वाले के डिवाइस में नेटवर्क नहीं होता तो उसे तब तक sms प्राप्त नहीं होगा जब तक उसके डिवाइस में नेटवर्क नहीं आएगा जब उसके डिवाइस में नेटवर्क आएगा तो उसे अपने आप sms प्राप्त हो जाएगा।


SMS के लाभ और हानि :- 


sms से हमें लाभ और हानि दोनों होते हैं क्योंकि जहां पर लाभ होता है वहां पर कोई न कोई हानि जरूर होती है। 

आइए जानते हैं कि sms से हमें क्या लाभ और क्या हानि होती है-

SMS के लाभ :- 


SMS से हमें जो लाभ होते हैं वह कुछ इस प्रकार से हैं-

  1. इसका उपयोग करना बहुत ही आसान है। 
  2. इसमें इंटरनेट की आवश्यकता नहीं होती है। 
  3. किसी को sms करने के लिए सिर्फ उसका मोबाइल नंबर चाहिए होता है यदि आपको उसका मोबाइल नंबर पता है तो आप उसे बहुत ही आसानी से sms कर सकते हैं। 
  4. यह सुविधा सभी फ़ोन में उपलब्ध होती है जरूरी नहीं कि आपके पास स्मार्टफोन ही होना चाहिए आप इसको साधारण वाले फ़ोन से भी कर सकते हैं। 
  5. इसका उपयोग करने के लिए आपको किसी भी प्रकार का सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करने की जरूरत नहीं पड़ती है या सभी फोन में पहले से ही उपलब्ध होता है। 
  6. SMS की सर्विस बहुत ही तेज होती है यदि दोनों के मोबाइल में नेटवर्क अच्छा है तो यह पल-भर में ही डिलीवर हो जाता है।


SMS से हानियां :- 


इससे हमें जो हानि होती है वह कुछ इस प्रकार से है-

  1. इसमें हमें ज्यादा सिक्योरिटी प्रदान नहीं की जाती है इसीलिए हमारे डाटा चोरी होने की भी संभावना होती है।
  2. यदि आप एक साथ बहुत सारे sms भेजते हैं तो कंट्रोलर को ओवरलोडिंग की दिक्कत आ जाती है और वह आपके मोबाइल में आने वाले सभी कॉल को एक निश्चित समय के लिए रोक भी सकता है।


आज आपने क्या सीखा :- 


आज इस आर्टिकल में हमने sms से संबंधित लगभग सभी प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया, इस आर्टिकल में हमने एसएमएस का फुल फॉर्म, sms क्या है तथा इसके अलावा sms से संबंधित और भी बहुत से प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया। 

अगर आपने हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा तो अब तक आपको sms से संबंधित बहुत सी जानकारी प्राप्त हुईं होगी। 

दोस्तों हमारा यह आर्टिकल sms ka full form आपको कैसा लगा हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं तथा यदि हमारे इस आर्टिकल से संबंधित आपके मन में कोई प्रश्न है तो वह भी हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं।

यदि आप हमसे कुछ पूछना चाहते हैं या आप हमसे बात करना चाहते हैं तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, मुझे आपके फ़ीडबैक का इंतजार रहेगा। 

अगर हमारा यह आर्टिकल sms ka full form आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ तथा सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी शेयर करें (धन्यवाद)