Ticker

6/recent/ticker-posts

बीए का फुल फॉर्म क्या होता हैं तथा बीए क्या हैं (ba ka full form)-हिंदी में

क्या आप ba ka full form जानते हैं? शायद आपको इसके बारे में पहले सेेेेे ही पता हो परंतु बहुत से लोग ऐसे होंगे जिनको इसकेेे बारे में नहीं पता होगा।

जब आप इंटर की पढ़ाई कर रहे होते हैं तो आपके दोस्त और रिश्तेदार वाले यह कहते हैं कि इंटर के बाद बीए कर लेना परंतु उस टाइम हमें कुछ समझ नहीं आता कि यह बीए क्या है।

अगर आपके साथ भी ऐसा होता है तो घबराइए नहीं आज इस आर्टिकल में हम आपको बीए से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को देने वाले हैं, बिना किसी देरी के आइए इसके बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं। 


बीए का फुल फॉर्म (ba ka full form) :- 


b.a. का फुल फॉर्म Bachelor Of Arts होता हैं, बीए ग्रेजुएशन प्रोग्राम होता है। 

जो बच्चे 11th में आर्ट लेते हैं तथा उसी से अपने इंटर की पढ़ाई कंप्लीट करते हैं उन बच्चों के लिए आगे की पढ़ाई के लिये सबसे बेस्ट ऑप्शन b.a (बीए) का होता है।

b.a. ग्रेजुएशन दूसरे ग्रेजुएशन के मुकाबले बहुत ही सरल होता है, इसको करने के लिए आपको ज्यादा पढ़ाई करने की जरूरत नहीं पड़ती है। दूसरे ग्रेजुएशन जैसे- b.tech, b-com इत्यादि के मुकाबले ये ग्रेजुएशन काफी सरल होता है। 

हम यह कह सकते हैं कि इस ग्रेजुएशन से सरल दूसरा कोई ग्रेजुएशन होता ही नहीं है। 

जो स्टूडेंट्स (IAS, IPS, IFS, IRS, IAAS) की तैयारी करना चाहते हैं वों सभी स्टूडेंट बीए से ही ग्रेजुएशन करते हैं। 


बीए क्या होता हैं (ba kya hai) :- 


ba ka full form


B.a. एक ग्रेजुएशन डिग्री होती है, जिसको करने के बाद जो स्टूडेंट इसे कर लेते हैं वें ग्रेजुएट स्टूडेंट कहलाते हैं।

बीए करने के फायदे (ba karne ke fayde) :-


b.a. करने से हमें बहुत से प्रकार के फायदे होते हैं जो निम्नलिखित प्रकार से हैं-

  1. बीए करने के बाद हम graduate student कहलाते हैं।
  2. यह ग्रेजुएशन दूसरे ग्रेजुएशन के मुकाबले बहुत ही सरल होता है इसीलिए इसमें असफल होने की संभावना बहुत ही कम होती है। 
  3. अगर आप इस ग्रेजुएशन को करते हैं तो आपके ऊपर ज्यादा पढ़ाई करने का दबाव नहीं रहता आप आसानी से बहुत कम पढ़ाई करके इसमें सफल हो सकते हैं।
  4. इस ग्रेजुएशन को करते-करते आप कहीं पर जॉब नहीं कर सकते हैं।


बीए करने के लिये योग्यता :- 


b.a. में एडमिशन लेने के लिए आपसे किसी खास प्रकार की योग्यता नहीं मांगी जाती है  इसको करने के लिए जो योग्यता मांगी जाती है वह इस प्रकार से है-

  1. B.a. में एडमिशन के लिए आपको कम से कम 12th की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होती है। 
  2. जरूरी नहीं कि आपने 12th में आर्ट से ही पढ़ाई की हो, यदि आप दूसरे सब्जेक्ट के साथ अपनी 12th की परीक्षा उत्तीर्ण की है तब भी आप b.a. में एडमिशन ले सकते हैं। 
  3. जब आप b.a. में एडमिशन के लिए जाते हैं तो किसी भी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में किसी भी प्रकार का कोई भी एंट्रेंस एग्जाम नहीं देना पड़ता है।

बीए कितने साल का होता हैं (Duration) :- 


बीए 3 साल का कोर्स होता है, बीए का कोर्स 2 तरह से होता है रेगुलर और प्राइवेट। 

यदि हम चाहे तो इसे रेगुलर से कर सकते हैं या फिर प्राइवेट से कर सकते हैं। 

बीए में फीस कितनी लगती हैं (Fee) :- 


बीए की फीस इस बात पर निर्भर करती हैं की आप बीए का ग्रेजुएशन प्राइवेट कॉलेज से कर रहे हो या गवर्नमेंट कॉलेज से क्योंकी दोनों जगहों की फीस में काफी अंतर होता हैं। 

प्राइवेट कॉलेज फीस - 


यदि आप बीए का कोर्स किसी प्राइवेट कॉलेज से करते हैं तो आपका प्रतिवर्ष का औसतन लगभग 10-15 हजार रूपये लग जाते हैं, आपका इससे कम और इससे ज्यादा फीस भी लग सकती हैं वो सब इस बात पर निर्भर करता हैं की आपका कॉलेज कैसा हैं।

गवर्नमेंट कॉलेज फीस - 

 
यदि आप किसी गवर्नमेंट कॉलेज से बीए का कोर्स करते हैं तो आपकी फीस और भी कम लगती हैं। 

बीए करने के बाद क्या-क्या कर सकते हैं :- 


बीए का कोर्स करने के बाद हम विभिन्न प्रकार के अन्य कोर्सेज की तैयारी कर सकते हैं जो निम्नलिखित प्रकार से हैं-

  1. बीए से ग्रेजुएशन करने के बाद आप पोस्ट ग्रेजुएशन के लिए आप M.A (एम ए) कर सकते हैं। 
  2. B.a. ग्रेजुएशन करने के बाद आप विभिन्न प्रकार की प्रतियोगी परीक्षाओं को भी दे सकते हैं जैसे- रेलवे, एसएससी इत्यादि तथा इसके अतिरिक्त और भी बहुत सी परीक्षाएं होती है जिनमें ग्रेजुएशन मांगा जाता है। 
  3. बीए से ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद यदि आप टीचर बनना चाहते हैं तो आप B.ed कर सकते हैं। 
  4. बीए (b.a.) से ग्रेजुएशन पूरी करने के बाद यदि आप कंप्यूटर के क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आप ADCA, DCA, PGDCA का कोर्स भी कर सकते हैं और कंप्यूटर के क्षेत्र में अपना कैरियर बना सकते हैं।
  5. बीए करने के बाद आप विभिन्न प्रकार की नौकरियां भी कर सकते हैं। 
  6. यदि आप अपना कैरियर लीगल फील्ड में बनाना चाहते हैं तो आप एलएलबी (LLB) कर सकते हैं।


बीए से जुड़ी कुछ जरुरी जानकारी :- 


बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो पैसे और समय की वजह से अपनी पढ़ाई नहीं कर पाते ऐसे लोगों के लिए बीए से ग्रेजुएशन करना बहुत ही आसान और सरल होता है क्योंकि बीए का कोर्स बहुत ही सरल होता है आप इस कोर्स को करने के साथ-साथ कहीं दूसरी जगह जॉब भेज कर सकते हैं। 

बीए का कोर्स करने में आप का सालाना बजट 10000-15000 रूपये हैं, या इससे कम भी होता है, यदि आप किसी सरकारी कॉलेज से b.a. का कोर्स करते हैं तो आपका पैसा और भी कम लगता है। 

बीए के बाद जॉब्स के अवसर (jobs) :- 


बीए से ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद आपको विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न प्रकार के नौकरियां मिल जाती है।
इसमें बहुत से सब्जेक्ट होते हैं आप अपने इंट्रेस्ट के हिसाब से किसी सब्जेक्ट को सेलेक्ट करके तथा उसकी पढ़ाई करके उस क्षेत्र में जॉब पा सकते हैं। 

बीए से ग्रेजुएशन कंप्लीट करने के बाद हमें जिस क्षेत्र में नौकरी मिलने के  अवसर होते हैं हैं उनमें से कुछ इस प्रकार से है-

  1. बीए करने के बाद आप कॉपी राइटर बन सकते हैं। 
  2. जर्नलिस्ट बन सकते हैं। 
  3. इकोनॉमिस्ट बन सकते हैं। 
  4. पब्लिक सर्वेंट बन सकते हैं। 
  5. बजट एनालिटिक्स बन सकते हैं। 
  6. टीचर बन सकते हैं। 
  7. सोशल वर्कर बन सकते हैं। 
  8. बीए करने के बाद आप कंटेंट राइटर भी बन सकते हैं।
इस सबके अलावा और भी बहुत से जॉब्स ऐसे हैं जिन्हे आप बीए करने के बाद आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। 


आज आपने क्या सीखा :- 


आज इस आर्टिकल में हमने बीए से संबंधित बहुत से प्रकार के जानकारियां प्राप्त की आर्टिकल में हमने ba ka full form, बीए क्या हैं, बीए करने के फायदे, इसको करने के लिये योग्यता, इसको करने में कितना समय लगता है, इसकी फीस तथा इसको करने के बाद आगे जॉब्स के अवसर इत्यादि के बारे में जानकारी प्राप्त की। 

निष्कर्ष :- 


मुझे उम्मीद है आपको हमारी यह लेख बीए का फुल फॉर्म (ba ka full form) जरूर पसंद आई होगी, इस लेख को लिखने में हमारी यही कोशिश थी कि हमारे रीडर को इस आर्टिकल को पढ़कर सारी जानकारी मिल जाए और किसी अन्य साइट पर ना जाना पड़े। 
इससे हमारे इस लेख के रीडर्स का समय भी बचेगा और उनको यहीं पर सारी जानकारी भी मिल जाएगी। 

यदि आपके मन में हमारे इस लेख से संबंधित किसी भी प्रकार का प्रश्न है तो मैं नीचे कमेंट करके अवश्य बताएं। 

आपको हमारा यह लेख ba ka full form अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ तथा सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर भी शेयर करें। (धन्यवाद)

Post a Comment

0 Comments