Ticker

6/recent/ticker-posts

पीएचडी (PHD) का फुल फॉर्म 2021 | PHD Full Form in Hindi

क्या आप PHD Ka Full Form जानते हैं? बहुत से लोग ऐसे होंगे जिनको पहले से ही इसके बारे में पता होगा परंतु ज्यादातर लोग ऐसे  होंगे जिनको इसके बारे में नहीं पता होगा। 

क्या आप पीएचडी से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं, यदि आप पीएचडी से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए हमारे इस ब्लॉग पर आए हैं तो आप बिल्कुल सही जगह आ गए हैं। 

आज इस आर्टिकल में हम पीएचडी से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को देने वाले हैं, अगर आपको पीएचडी से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए तो आप हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। 

मैं वादा करता हूं हमारा यह आर्टिकल पढ़कर आपके मन में पीएचडी से संबंधित जितने भी प्रश्न होंगे आपको उन सारे प्रश्नों के उत्तर मिल जाएंगे। तो चलिए फिर बिना किसी देरी के शुरू करते हैं और इसके बारे में डिटेल्स में जानकारी प्राप्त करते हैं-

phd-full-form

PHD Ka Full Form :-

PHD का फुल फॉर्म "Doctor of Philosophy" होता हैं, जिसे हिंदी भाषा में 'डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी' भी कहते हैं।इसे हम शार्ट भाषा में Ph.D कहा जाता हैं तथा इसे Dphil भी कहते हैं। इस कोर्स को पूरा करने में 3-5 साल का समय लग जाता हैं तथा इसके बाद हमें इसकी डिग्री मिल जाती हैं।


PHD Full Form in Hindi :-

जैसा कि मैंने ऊपर बताया की phd का फुल फॉर्म doctor of philosophy होता हैं, पीएचडी का हिंदी भाषा में फुल फॉर्म 'डॉक्टर ऑफ फिलोसोफी' ही होता है।



पीएचडी क्या हैं (What is PHD in Hindi):-

पीएचडी का फुल फॉर्म डॉक्टर ऑफ फिलोसोफी होता हैं, पीएचडी का कोर्स पूरा करने में 3 से 5 साल का समय लग जाता है। इस कोर्स को करने के बाद आप अपने नाम के आगे डॉक्टर (Dr.) शब्द लगाने के योग्य हो जाते हैं तथा अपने नाम से पहले डॉक्टर (Dr.) शब्द लगा सकते हैं। 

पीएचडी किसी भी सब्जेक्ट की हाईएस्ट यूनिवर्सिटी डिग्री होती है जिस सब्जेक्ट से आप पीएचडी का कोर्स करते हैं आप उस सब्जेक्ट के एक्सपर्ट बन जाते हैं। पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आप किसी यूनिवर्सिटी या कॉलेज में एक लेक्चरर के रूप में काम कर सकते हैं और छात्रों को पढ़ा सकते हैं।

पीएचडी एक उच्च कोर्स होता है, पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आप अपने नाम के आगे डॉक्टर (Dr.) शब्द का प्रयोग कर सकते हैं। यदि आप पीएचडी का कोर्स करना चाहते हैं तो आपके पास ग्रेजुएशन तथा मास्टर डिग्री होना जरूरी होता हैं। 


बहुत से देश ऐसे भी हैं जहां पर पीएचडी को सर्वोच्च डिग्री मानी जाती है। आप जिस सब्जेक्ट से पीएचडी का कोर्स करते हैं आपको उस सब्जेक्ट का ज्ञाता माना जाता है। बड़े-बड़े कॉलेजों व इंस्टिट्यूट में प्रोफेसर के पद पर काम करने के लिए पीएचडी करना जरूरी होता है, पीएचडी एक डॉक्टरल डिग्री होती है। 

आपने बड़े-बड़े कॉलेजों तथा यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर की डिग्री देखी होगी तो उनकी डिग्री में पीएचडी जरूरत लिखा मिलता होगा। पीएचडी का कोर्स करने के बाद आप जिस सब्जेक्ट से इस कोर्स को करते हैं आप उसके ज्ञाता माने जाते हैं तथा आगे चलकर आप उसमे रिसर्चकर्ता व एनालिसिस के पद पर काम भी कर सकते हैं।



PHD कितने वर्ष का कोर्स होता हैं (Duration time) :-

हमारे देश भारत में पीएचडी का कोर्स पूरा करने में 3 से 5 साल तक लग जाते हैं, इसके अलावा बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनको पीएचडी का कोर्स पूरा करने में 5 साल से अधिक का समय भी लग जाता है।

यह सब उनके रिसर्च और गाइड पर निर्भर करता है कि पीएचडी का कोर्स पूरा करने में कितना समय लगेगा। कुछ देशों में तो पीएचडी का कोर्स 3 सालों में ही पूरा हो जाता है, जैसे- जापान, यूके तथा फ्रांस में पीएचडी का कोर्स 3 साल में ही पूरा हो जाता है।


PHD कोर्स की फीस (Fee) :-

पीएचडी कोर्स करने में कितनी फीस लगती है यह इस बात पर निर्भर करती है कि आपका कॉलेज/इंस्टिट्यूट कैसा है, क्योंकि सभी कॉलेज और इंस्टिट्यूट की अपनी अलग अलग फीस होती है। 

किसी-किसी कॉलेज में फीस बहुत अधिक होती है तो किसी-किसी कॉलेज में कम होती है यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपका कॉलेज कैसा है तथा आपका कॉलेज आपको क्या-क्या फैकल्टी प्रदान कर रहा है। पीएचडी कोर्स की एवरेज फीस की बात करें तो आपके लगभग (20-40) हजार रूपये एक साल मे लग जाते है

वार्षिक फीस :-  20000-40000 रूपये


PHD कैसे करें :-

जैसा कि मैंने आपको बताया कि पीएचडी का कोर्स करने में बहुत ज्यादा कठिनाई होती है, पीएचडी का कोर्स बहुत कठिन होता है यह कोर्स लंबा भी होता है मतलब इस कोर्स को करने में समय भी ज्यादा लगता है। 

पीएचडी का कोर्स करने के लिए हमसे कुछ योग्यता मांगी जाती है, पीएचडी का कोर्स करने के लिए क्या योग्यता मांगी जाती है आइए इसके बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।



PHD के लिये मांगी जानें वाली योग्यता (Eligibility for PHD in Hindi) :-

यदि आप पीएचडी का कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको इसके योग्य होना पड़ता है मतलब पीएचडी का कोर्स करने के लिए कुछ योग्यता है मांगी जाती है। पीएचडी का कोर्स करने के लिए जो योग्यता मांगी जाती है वह इस प्रकार से है- 

  • यदि आप पीएचडी का कोर्स करना चाहते हैं तो आपका स्नातक (Graduation) तथा परास्नातक (Poat Graduation) पूरा होना चाहिए। 
  • परास्नातक (Poat Graduation) में आप कम से कम 60% अंकों के साथ पास हुए हो, तथा आरक्षित वर्ग के लोगों का 55% अंक होना जरूरी होता है। 
  • आपकी उम्र 55 साल से कम होनी चाहिए, मतलब 55 साल से कम का कोई भी व्यक्ति इस कोर्स को कर सकता है। 
  • NEET को पास करना जरुरी होता है तभी आप इस कोर्स को करने के योग्य होंगे अन्यथा नहीं।


नोट (Note) :-

पीएचडी का कोर्स आप केवल उन्हीं विषय से कर सकते हैं जिस विषय की आपके पास मास्टर डिग्री होती है।



PHD की तैयारी कैसे करें :-

पीएचडी का कोर्स बहुत ही कठिन कोर्स माना जाता है इस कोर्स को करने के बाद आप जिस विषय से इस कोर्स को करते हैं आप उस कोर्स का ज्ञाता बन जाते हैं।

पीएचडी का कोर्स करने में आपको बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है यह कोर्स भारत में होने वाले सबसे कठिन कोर्सों में से एक माना जाता है।

आप किस तरह से पीएचडी की तैयारी कर सकते हैं कि आपको ज्यादा परेशानी ना हो और आप आसानी के साथ इस कोर्स को पूरा कर ले, इसी के बारे में अब हम आपको जानकारी देने वाले हैं-

  • यदि आप पीएचडी जैसे कठिन कोर्स को करना चाहते हैं तो पहले से ही निश्चय कर ले कि आगे मुझे पीएचडी का ही कोर्स करना है। 
  • सबसे पहली बात आपको जिस विषय से पीएचडी का कोर्स करना है आप पहले से ही निश्चित कर ले और उसके बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करें।
  • आपकी जिस विषय में ज्यादा रुचि हो आप उसी विषय से पीएचडी का कोर्स करें इससे यह होगा कि आपको पढ़ने में मजा आएगा और आप आसानी से इस कोर्स को भी कर पाएंगे। 
  • आप 11th तथा 12th में वह विषय जरूर ले जिससे आपको आगे पीएचडी का कोर्स करना है। 
  • स्नातक तथा परास्नातक भी उसी विषय से करें जिससे आपको पीएचडी का कोर्स करना है।
  • इसके अलावा आपको जब भी समय मिले आप इंटरनेट पर उसी के विषय में सर्च करें और नए-नए टॉपिक के बारे में जानकारी प्राप्त करें।
11वीं से लेकर परास्नातक तक वही विषय पढ़ने से आपको उस विषय में बहुत सी जानकारी प्राप्त हो जायेगी, इसके बाद जब आप पीएचडी का कोर्स करेंगे तो आपको सब कुछ अच्छे से समझ में आएगा और पढ़ाई करने में भी अच्छा लगेगा, इस तरह से आप पीएचडी की तैयारी बहुत ही आसानी से कर सकते हैं।



PHD का कोर्स किस विषय से करें :-

पीएचडी का कोर्स आप उसी विषय से करें जिस विषय में आपकी रूचि हो क्योंकि जिस विषय में आपकी रूचि होगी आपको उस विषय को पढ़ने में मजा भी आएगा और उसको पढ़ने के लिए आपका इंटरेस्ट भी बना रहेगा। 

इसके अलावा यदि आप किसी ऐसे विषय से पीएचडी का कोर्स करते हैं जिसमें आपकी रुचि नहीं है तो आपको पढ़ाई करने में मजा नहीं आएगा और उस विषय को पढ़ने में कोई इंटरेस्ट नहीं नहीं रहेगा इससे आपको इस कोर्स को पूरा करने में बहुत ही दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा।


पीएचडी कोर्स करने के लिए बेस्ट कॉलेज :-

पीएचडी का कोर्स करने के लिए कुछ निम्नलिखित टॉप लेवल के कॉलेजों के नाम इस प्रकार से है-

  • Jawaharlal Nehru University (JNU), Delhi
  • Delhi University, Delhi
  • University of Mumbai
  • University of Calcutta
  • Amity University Noida
  • Banaras Hindu University
  • Jamia Millia Islamia University, New Delhi
  • Christ University Bangalore
  • Rajasthan University Jaipur
  • Aligarh Muslim University, Aligarh etc.



पीएचडी कोर्स में प्रवेश लेने पर मांगे जाने वाले डॉक्यूमेंट :-

पीएचडी में एडमिशन लेते समय अब से जो डॉक्यूमेंट मांगे जाते उनके नाम निम्न प्रकार से है- 


1. आधार कार्ड :-

आज के समय में लगभग सभी जगहों पर आधार कार्ड जरूर मांगा जाता है इसीलिए आप जब भी पीएचडी कोर्स में प्रवेश लेने जाए तो आधार कार्ड जरूर लेकर जाए। 


2. Intermediate Certificate :-

पीएचडी कोर्स में प्रवेश लेते समय इंटरमीडिएट सर्टिफिकेट भी मांगी जाती है इसीलिए आप जब भी इसमें प्रवेश लेने जाए तो इंटरमीडिएट की सर्टिफिकेट साथ में जरूर लेकर जाए, यह सर्टिफिकेट आपको वहां पर जमा भी करना पड़ता है। 


3. Graduation Certificate :-

आप जब भी पीएचडी कोर्स में प्रवेश लेने जाए तो ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट को साथ में जरूर लेकर जाएं क्योंकि ग्रेजुएशन सर्टिफिकेट एक प्रूफ होता है कि आपने ग्रेजुएशन पूरा किया है।

 

4. Post Graduation Certificate :-

पीएचडी का कोर्स करने के लिए आपके पास मास्टर डिग्री होना आवश्यक होता है इसीलिए आप जब भी पीएचडी कोर्स में प्रवेश लेने जाए तो पोस्ट ग्रेजुएशन सर्टिफिकेट को साथ में लेकर जाएं यह एक प्रूफ होता है कि आपने पोस्ट ग्रेजुएशन पूरा किया है।



PHD कोर्स करने के फायदे :-

पीएचडी का कोर्स पूरा कर लेने से हमें बहुत से फायदे होते हैं जिनमें से कुछ निम्नलिखित प्रकार से हैं- 

  • पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आपके नाम के साथ डॉक्टर शब्द अपने आप ही जुड़ जाता है जोकि बहुत ही सम्मान की बात होती है। 
  • पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आप कहीं पर भी बहुत ही आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। 
  • पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आप जिस विषय से पीएचडी का कोर्स पूरा किए हो उस विषय के आप ज्ञाता हो जाते हैं तथा आप उस पर रिसर्च भी कर सकते हैं। 
  • पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आप किसी कॉलेज या यूनिवर्सिटी में लेक्चरर या प्रोफेसर के पद पर काम भी कर सकते हैं।
  • पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आपको समाज में बहुत ही सम्मान मिलता है। 
  • पीएचडी शिक्षा की सर्वोच्च डिग्री मानी जाती है इसको करने के बाद आप शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़े ज्ञाता हो जाते हैं और लोगों के प्रति आपका सम्मान तथा आदर बढ़ जाता है।
इसके अलावा पीएचडी करने के और भी बहुत से प्रकार के  फायदे होते हैं।



Frequently Asked Questions (FAQ's) :-

Qus 1: पीएचडी को हिंदी में क्या कहते है?

Ans: पीएचडी का फुल फॉर्म "Doctor of Philosophy" होता हैं, हिंदी भाषा में इसे डॉक्टर ऑफ फिलोसोफी के नाम से ही जाना जाता है।

Qus 2: पीएचडी का मतलब क्या होता है फुल फॉर्म?

Ans: पीएचडी का फुल फॉर्म "Doctor of Philosophy" तथा मतलब 'डॉक्टर ऑफ फिलोसोफी' ही होता है।

Qus 3: पीएचडी की फीस कितनी होती है?

Ans: पीएचडी कोर्स को करने पर औसतन फीस लगभग (20-40) हजार रूपये एक साल मे लग जाते है।

Qus 4: पीएचडी कौन सा कोर्स होता है?

Ans: पीएचडी एक उच्च कोर्स होता है, पीएचडी का कोर्स पूरा करने के बाद आप अपने नाम के आगे डॉक्टर (Dr.) शब्द का प्रयोग कर सकते हैं। पीएचडी का कोर्स करने के बाद आप जिस सब्जेक्ट से इस कोर्स को करते हैं आप उसके ज्ञाता माने जाते हैं तथा आगे चलकर आप उसमे रिसर्चकर्ता व एनालिसिस के पद पर काम भी कर सकते हैं।

Qus 5: पीएचडी करने में कितना समय लगता है?

Ans: हमारे देश भारत में पीएचडी का कोर्स पूरा करने में 3 से 5 साल तक लग जाते हैं, इसके अलावा बहुत से लोग ऐसे होते हैं जिनको पीएचडी का कोर्स पूरा करने में 5 साल से अधिक का समय भी लग जाता है।

निष्कर्ष :-

इस आर्टिकल को पढ़कर यही निष्कर्ष निकलता है कि पीएचडी एक बहुत ही महान डिग्री होती है इस को हासिल करने के लिए हमें बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है तथा इस कोर्स को पूरा कर लेने के बाद समाज में हमारे प्रति लोगों का आदर सम्मान बढ़ जाता है। 

पीएचडी का कोर्स करने के बाद जिस सब्जेक्ट से पीएचडी का कोर्स करते हैं उस विषय के ज्ञाता बन जाते हैं और इसके अलावा हम संबंधित विषय पर नई नई रिसर्च भी कर सकते हैं तथा विभिन्न प्रकार के पदों पर काम करके समाज की सेवा भी कर सकते हैं।


आज आपने क्या सीखा :-

आज इस आर्टिकल में हमने पीएचडी से संबंधित सभी प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया इस आर्टिकल में हमने phd ka full form, phd क्या होता हैं इसको करने के लाभ इसके अलावा पीएचडी से संबंधित और भी बहुत से प्रकार की जानकारियों को प्राप्त किया। 

अगर आपने हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़ा होगा तो अब तक आपको पीएचडी से संबंधित बहुत सी प्रकार की जानकारियां अवश्य प्राप्त हुई होंगी। 

मैं आशा करता हूं दोस्तों हमारा यह आर्टिकल आपको जरूर पसंद आया होगा तथा हमारे इस आर्टिकल को पढ़कर आपको आपके उस प्रश्न का उत्तर भी मिल गया होगा जिसके लिए आप हमारे इस ब्लॉग पर आए थे। 

दोस्तों हमारा यह आर्टिकल phd ka full form आपको कैसा लगा हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं तथा यदि हमारे इस आर्टिकल से संबंधित आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई प्रश्न है तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं। 

यदि आप हमसे कुछ पूछना चाहते हैं या आप हमसे बात करना चाहते हैं तो हमें नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, मुझे आपके फीडबैक का इंतजार रहेगा। 

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल phd ka full form अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ तथा सोशल नेटवर्किंग साइट पर भी शेयर करें (धन्यवाद)

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ